योग शरीर, मन और आत्मा को जोड़ने का विज्ञान: राजेश हनी

0
47
योग शरीर, मन और आत्मा को जोड़ने का विज्ञान: राजेश हनी
योग शरीर, मन और आत्मा को जोड़ने का विज्ञान: राजेश हनी

Amritsar(Rajeev Sharma):

भारतीय संस्कृति की परम्परा और इतिहास लाखों वर्ष पुराना है| दुनिया को दृष्टि मार्ग दिखाने का भारत प्रबल दावेदार है| लाखों वर्षों से सभ्यता और संस्कृति को समेटे भारतीय संस्कृति दुनिया भर में सबसे पुरानी मानी जाती है, जिसका प्रमाण योग है| भारत का योग दुनिया भर में योग दिवस के रूप में मनाया जा रहा है| इसका वैश्विक स्तर पर प्रचार और प्रसार हो रहा है|

        भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी ने 27 नवंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए दुनिया भर में योग दिवस मानाने का आह्वान किया| प्रधानमंत्री के इस प्रस्ताव को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्वीकार किया और तीन महीने के भीतर ही 21 जून को प्रत्येकज वर्ष योग दिवस के रूप में मानाने की घोषणा की गई|

        इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए भाजपा प्रदेश सचिव एडवोकेट राजेश हनी ने अटारी-वाघा सीमा पर संगठन पदाधिकारियों के साथ योग दिवस मानाने पहुंचे| इस अवसर पर उन्होंने सीमा सुरक्षा बल के जवानों के साथ योगभ्यास किया| इस अवसर पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र ने एकमत से 177 देशों में 21 जून को योग दिवस मनाने का निर्णय लिया था| तब से निरन्तर दुनिया भर में योग दिवस मनाया जा रहा है|

        राजेश हनी ने कहा कि हम सब भारतवासी प्रधानमंत्री श्री नरेंदर मोदी जी के आभारी है जिन्होंने भारत की ऋषि परंम्परा के इस उपहार को भारत ही नहीं बल्कि विश्व भर में पहुँचाया| उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान सब ने देखा कि जिसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत है, वही रोग के आगे टिक पाएगा| उन्होंने सभी भारत वासियों से योग करने की अपील की| उन्होंने कहा कि योग शरीर, मन एवं आत्मा को जोड़ने का विज्ञान है और प्रत्येक भारतवासी को योग को जीवनशैली का अंग बनाने का अथक प्रयास करना चाहिए|

        राजेश हनी ने कहा कि पूरी दुनिया में आज योग की धूम है| हर तरफ योग करते लोगों की तस्वीरें आ रही है| आज प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी ने मैसूर में योगाभ्यास किया| हिमवीर अपनी ड्यूटियों पर डटे हुए हैं| बावजूद कठिन परिस्थितियों में भी योगाभ्यास कर रहे हैं| उन्होंने योग दिवस की सभी देशवासियों को शुभकामनाएं दीं| इस अवसर पर हरविंदर संधू तथा हरप्रीत ग्रोवर भी उनके साथ उपस्थित थे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here