लुधियाना के दो टैक्सी चालक 20.80 किलो आई.सी.ई. समेत काबू

0
77
लुधियाना के दो टैक्सी चालक 20.80 किलो आई.सी.ई. समेत काबू
लुधियाना के दो टैक्सी चालक 20.80 किलो आई.सी.ई. समेत काबू

Ludhiana(Arun Gupta):मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा ड्रग माफिया के खि़लाफ़ शुरु की गई जंग के अंतर्गत पंजाब पुलिस की विशेष टास्क फोर्स (एस.टी.एफ.) ने लुधियाना से 20.80 किलोग्राम एमफेटामाइन या क्रिस्टल मैथ, जिसको आई.सी.ई. के नाम से जाना जाता है, बरामद करके दो नशा-तस्करों को गिरफ़्तार किया है। यह जानकारी आज यहाँ इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (आईजीपी) एसटीएफ गुरिन्दर सिंह ढिल्लों ने दी। उपरोक्त कार्यवाही एआईजी स्नेहदीप शर्मा के नेतृत्व में एसटीएफ लुधियाना की टीमों द्वारा की गई।  
पकड़े गए व्यक्तियों की पहचान हरप्रीत सिंह उर्फ बॉबी (40) निवासी गाँव सनेत, लुधियाना और अर्जुन (26) निवासी अम्बेडकर नगर लुधियाना के रूप में हुई है। दोनों लुधियाना में टैक्सी चालक हैं। पुलिस ने मुख्य सप्लायर विशाल उर्फ विनय निवासी लेबर कॉलोनी लुधियाना के खि़लाफ़ भी मामला दर्ज किया है।  
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए आईजीपी गुरिन्दर सिंह ढिल्लों ने बताया कि हरप्रीत और अर्जुन द्वारा अपने मोटरसाईकल हौंडा ड्रीम ( पीबी 10 ईयू 6811) पर बीआरएस नगर लुधियाना के टी-प्वाइंट में आईसीई की सप्लाई देने सम्बन्धी मिली भरोसेयोग्य जानकारी के आधार पर एसटीएफ लुधियाना रेंज के इंचार्ज इंस्पेक्टर हरबंस सिंह के नेतृत्व अधीन पुलिस टीम ने उक्त स्थान पर छापेमारी करके दोनों तस्करों को काबू कर लिया और उनके कब्ज़े से काले रंग के बैग में छिपाकर रखी गई 2 किलो आई.सी.ई. और एक तोलने वाली मशीन बरामद की।  
उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान मुलजि़मों ने माना है कि वह विशाल उर्फ विनय के निर्देशों पर 4 सालों से अधिक समय से आईसीई ड्रग्ज़ बेच रहे थे। विनय, जोकि एक रियलटर के तौर पर काम कर रहा है, अर्जुन का सौतेला भाई है और अर्जुन एवं हरप्रीत के द्वारा आई.सी.ई. स्पलाई करता था।  
आईजीपी ने बताया कि दोनों मुलजि़मों के इकबालिया बयान के बाद पुलिस टीम ने लुधियाना के जवाहर नगर की लेबर कॉलोनी स्थित विशाल उर्फ विनय के घर से 18.80 किलोग्राम आईसीई और एक तोलने वाली मशीन भी बरामद की है। उन्होंने बताया कि आईसीई ड्रग घर की दूसरी मंजिल पर रखी अलमारी में छिपाकर रखी गई थी।  
उन्होंने कहा कि पड़ताल के दौरान सभी अगले-पिछले संबंधों का पता लगाया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा और दोषियों के विरुद्ध एनडीपीएस एक्ट, 1985 की धाराओं के अनुसार सख़्त कार्रवाई की जाएगी।  
एआईजी स्नेहदीप शर्मा ने बताया कि पुलिस टीमें फऱार मुलजि़म विशाल को गिरफ़्तार करने के लिए छापेमारी कर रही हैं। उन्होंने कहा कि अगली जांच जारी है।  
गौरतलब है कि एन.डी.पी.एस एक्ट की धाराएं 21 और 29 के अधीन थाना फेज़-4 मोहाली, एस.ए.एस. नगर में एफआईआर नंबर 140 तारीख़ 27-6-2022 दर्ज है।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here