शिरोमणी अकाली दल ने लुधियाना इंप्रूवमेंट ट्रस्ट में की गई धांधली की सी.बी.आई जांच के साथ साथ विजिलेंस जांच की मांग

0
112
शिरोमणी अकाली दल ने लुधियाना इंप्रूवमेंट ट्रस्ट में की गई धांधली की सी.बी.आई जांच के साथ साथ विजिलेंस जांच की मांग
शिरोमणी अकाली दल ने लुधियाना इंप्रूवमेंट ट्रस्ट में की गई धांधली की सी.बी.आई जांच के साथ साथ विजिलेंस जांच की मांग

Ludhiana(Arun Gupta):

शिरोमणी अकाली दल ने आज मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान से कांग्रेस सरकार के कार्यकाल के दौरान लुधियाना इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के कामकाज की विजिलेंस जांच का आदेश देने और पूर्व मंत्री भारत भूषण आशू और पूर्व ट्रस्ट चेयरमैन रमन बालासुब्रमण्यम द्वारा की गई गड़बड़ी की सी.बी.आई जांच की सिफारिश करने की अपील की है।

यहां एक प्रेस बयान जारी करते हुए पूर्व मंत्री सरदार महेशइंदर सिंह ग्रेवाल ने कहा है कि पूर्व मंत्री के साथ साथ पूव्र ट्रस्ट चेयरमैन के करीबी लोगों को अनुचित लाभ देने के कारण राज्य के खजाने के करोड़ों रूपये की लूट हुई है। उन्होने कहा कि नियमों के संशोधन के कारण ट्रस्ट को भारी नुकसान उठाना पड़ा, जिसके परिणामस्वरूप डिफॉल्टरों की संपत्ति की नीलामी करने के बजाय दंडात्मक ब्याज माफ कर दिया गया।

सरदार ग्र्रेवाल ने कहा कि ट्रस्ट ने भूमि उपयोग में बदलाव करके आवास प्रोजेक्टों के लिए ग्रीन बेल्ट तैयार करके शहर की हरियाली भरी जगहों को भी लूट लिया गया। उन्होने कहा कि ट्रस्ट का पैसा सड़कों का जाल बिछाकर और उन जमीनों पर इंटर-लॉकिंग टाइलें बिछाकर भी ट्रस्ट का पैसा बर्बाद किया गया, जो उनके स्वामित्व में भी नही थी।

अकाली नेता ने कहा कि इन गड़बड़ियों को नगर निगम कमिशनर के ध्यान में भी लाया गया था, लेकिन अधिकारी इस मामले में कोई कार्रवाई करने में विफल रहे। यह कहते हुए कि केवल एक विस्तृत जांच ही मंत्री और पूर्व चेयरमैन के कुकर्मो का पर्दाफाश कर सकती है। सरदार ग्रेवाल ने कहा कि पूरे मामले को मुख्यमंत्री के ध्यान में भी लाया जाएगा। ‘‘ लुधियाना के निवासी चाहते हैं कि इंम्प्रूवमेंट ट्रस्ट और उसके पदाधिकारियों को उनके द्वारा किए गए कुक्रमों के लिए जिम्मेदार ठहराया जाए। इसके साथ ही ट्रस्ट को कांग्रेस के कार्यकाल के दौरान की गई सभी अवैध कार्रवाइयों की समीक्षा करनी चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि इसे पूरी तरह से पारदर्शी तरीके से चलाया जाए’’।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here