कोविड-19 महामारी की नई लहर से निपटने के लिए पंजाब पूरी तरह तैयार-भगवंत मान

0
129
कोविड-19 महामारी की नई लहर से निपटने के लिए पंजाब पूरी तरह तैयार-भगवंत मान
कोविड-19 महामारी की नई लहर से निपटने के लिए पंजाब पूरी तरह तैयार-भगवंत मान

Chandigarh(Harish Jindal):कोविड-19 की नई लहर के बढ़ रहे खतरे के मद्देनजऱ पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज कहा कि राज्य कोविड महामारी के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है।
कोविड-19 के मामलों में वृद्धि को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बुलाई गई मुख्यमंत्रियों की वर्चुअल मीटिंग में शिरकत करते हुए भगवंत मान ने स्पष्ट तौर पर कहा कि पंजाब ने कोविड महामारी की नई लहर से निपटने के लिए कारगर प्रणाली विकसित की। उन्होंने कहा कि पंजाब के पास पहले ही कोविड मामलों की वृद्धि से निपटने के लिए आवश्यकता अनुसार सभी साधन उपलब्ध हैं और पंजाब में स्थिति काबू में है और लोगों की कीमती जानों की रक्षा के लिए हर संभव कदम उठाए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि राज्य के मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ, जोकि सही मायनों में कोरोना योद्धा हैं, कोविड महामारी के किसी भी तरह के विस्तार का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर 87 फ़ीसदी के मुकाबले राज्य की 97 फ़ीसदी आबादी को कोविड टीकाकरण की पहली डोज़ और 76 फ़ीसदी लोगों को दूसरी डोज़ दी जा चुकी है और महामारी का सामना करने के लिए 5.11 लाख लोगों को बूस्टर डोज़ भी दी जा चुकी है। उन्होंने कहा कि इस समय राज्य में बहुत कम केस (केवल 176 सक्रिय मामले) हैं और रोज़ाना के औसतन 25 केस आ रहे हैं। भगवंत मान ने कहा कि कोई मरीज़ गंभीर हालत में नहीं है और ना ही कोई मरीज़ आई.सी.यू. में भर्ती है और राज्य में लेवल दो के केवल 6 केस हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के लोगों को मानक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए संसाधनों की कोई कमी नहीं है। उन्होंने दोहराया कि राज्य सरकार कोविड-19 की संभावित चौथी या अगली लहर को रोकने के लिए सभी आवश्यक प्रबंध करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार द्वारा कोविड की स्थिति पर निरंतर निगरानी रखी जा रही है। भगवंत मान ने कहा कि राज्य में पहले ही अपेक्षित संख्या में बैड उपलब्ध हैं और राज्य कोविड मामलों में वृद्धि से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है।
मुख्यमंत्री ने बताया कि सरकारी मेडिकल कॉलेज, अमृतसर में 1236 बैड, सरकारी मेडिकल कॉलेज, पटियाला में 1450 बैड और सरकारी मेडिकल कॉलेज, फरीदकोट में 1025 बैड की व्यवस्था है। उन्होंने कहा कि अमृतसर, पटियाला और फरीदकोट में क्रमवार 360, 560 और 400 ऑक्सीजन बैड मौजूद हैं। भगवंत मान ने आगे कहा कि अमृतसर में 280 आई.सी.यू. बैड हैं और पटियाला में ऐसे 280 बैड हैं जबकि अमृतसर में 165 कोविड वेंटिलेटर बैड, पटियाला में 96 और फरीदकोट में 141 वेंटिलेटर बैड मौजूद हैं।
इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. विजय सिंगला, मुख्य सचिव अनिरुद्ध तिवारी, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव ए. वेणु प्रसाद और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here