बंदी सिखों में से मेरी रिहाई भाजपा की केंद्र सरकार की बदौलत हुई: लाल सिंह

0
210
बंदी सिखों में से मेरी रिहाई भाजपा की केंद्र सरकार की बदौलत हुई: लाल सिंह
बंदी सिखों में से मेरी रिहाई भाजपा की केंद्र सरकार की बदौलत हुई: लाल सिंह

Jalandhar(S.K Verma):केंद्र की भाजपा सरकार ने गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश दिवस के अवसर पर नोटिफिकेशन जारी करके बंदी सिखों को रिहा करने का ऐलान किया था। उस नोटिफिकेशन अधीन मेरी रिहाई हुई थी। अब बाकी बंदी सिखों की रिहाई के लिए भाजपा नेता तथा हलका फगवाड़ा से प्रत्याशी विजय सांपला कोशिशें कर रहे हंै। यह बात गांव अकालगढ़ के 2021 में रिहा हुए बंदी सिख लाल सिंह ने सांपला की मौजूदगी में कही।इस अवसर पर लाल सिंह ने कहा कि आज हमारे गांव में भाजपा द्वारा हलके में चुनाव लड़ रहे विजय सांपला जी आए हैं, उनके साथ कल भाजपा नेता केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र शेखावत पहुंचे थे। उनके साथ सिख संगठनों ने बातचीत करके बंदी सिखों की रिहाई के लिए मांग पत्र दिया था, वहां बड़ी संजीदगी से उनकी बात सुनी तथा मौके पर ही शेखावत द्वारा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ फोन पर बातचीत करके इस मामले को जल्द हल करने के लिए कहा। श्री शाह ने इस मसले को हल करने का समर्थन किया था इस अवसर पर लाल सिंह ने विजय सांपला का बहुत धन्यवाद किया कि उन्होंने इस बात को बड़ी संजीदगी के साथ लिया तथा जो इतने वर्षों से मामला लटका हुआ था, उसका फैसला हो सके। उन्होंने कहा कि मेरी रिहाई भी केंद्र सरकार द्वारा गुरपुर्व मौके जारी हुई नोटिफिकेशन तहत ही हुई थी, पर बाकी सिख अभी तक रिहा नहीं हुए। बंदी सिखों में प्रो. दविन्द्र पाल सिंह भुल्लर तथा गुरदीप सिंह खेड़ा तथा अन्य की रिहाई होनी बाकी है। भाई राजोआणा की फांसी की सजा उम्र कैद में बदलना अभी बाकी है। लाल सिंह ने कहा कि कल बहुत अच्छी तरह से बातचीत की गई थी तथा सुनी भी गई। हमको उम्मीद है कि इसके जल्द ही सकारात्मक नतीजे आने की उम्मीद है। उन्होंने विजय सांपला का धन्यवाद करते हुए कहा कि उनके द्वारा जो बात केंद्र तक पहुंचाई उसका अच्छा परिणाम आएगा।इस दौरान विजय सांपला गांव अकालगढ़ के एक टूर्नामेंट में शामिल हुए, जहां सरपंच गुलजार सिंह ने उनका स्वागत किया। सांपला ने कहा कि बहुत ही अच्छा लगता है कि जब अच्छे खिलाड़ी खेलते हुए आगे बढ़ते हैं, क्योंकि पंजाब का नाम पहले खेलों में बहुत मशहूर था। चब्बेवाल तक हमारी फुटबाल की बेल्ट थी। फुटबाल व हाकी में पंजाब का बहुत बड़ा नाम था। कबड्डी में बहुत बड़ा नाम था, पंजाबियों की सेहत को देखकर लोग जब बाहर जाते थे, तो बहुत वाह-वाही होती थी, पर बीते कुछ समय से पंजाब का नाम बदनाम हुआ। अकालगढ़ की पंचायत का धन्यवाद करते हुए उन्होंने कहा कि पंचायत की बदौलत ही बच्चों को सेहत के प्रति सुचेत किया जा रहा है। लाल सिंह का यहां बहुत बड़ा योगदान है, नौजवानों को संभालना आज का एक बहुत कार्य है। भाजपा की उम्मीदवार विजय सांपला ने उपस्थित लोगों को उनको चुनाव में कामयाब करने की अपील की।इस दौरान गांव अकालगढ़ का ही एक कांग्रेसी परिवार विजय सांपला की मौजूदगी में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गया। इस अवसर पर जस्सी भारद्वाज, बलवीर सिंह भंगेवाला तथा अन्य बहुत सारे इलाकावासी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here