पुष्पा गुजराल साइंस सिटी कपूरथला की ओर से अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया

0
102
पुष्पा गुजराल साइंस सिटी कपूरथला की ओर से अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया
पुष्पा गुजराल साइंस सिटी कपूरथला की ओर से अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया

Kapurthala(Gaurav Maria):

पुष्पा गुजराल साइंस सिटी कपूरथला की ओर से अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस पर नारी शक्ति को विज्ञान व साहित्य के सुमेल के जरिए जोड़ने के उद्देश्य से नारी धरती व विज्ञान विषय पर पंजाबी कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। वर्चुअल ढंग से हुए इस कवि सम्मेलन में 100 से अधिक छात्राओं व महिलाओं ने भाग लिया।
इस मौके पुष्पा गुजराल साइंस सिटी की डायरेक्टर जनरल डा.नीिलमा जेरथ ने कहा कि अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस पूरे विश्व में महिलाओं द्वारा महिला सशक्तिकरण समेत विज्ञान, टेक्नालॉजी, पर्यावरण, सामाजिक, आर्थिक विकास, साहित्य व कला के क्षेत्र में डाले गए अहम योगदान को श्रद्धाजंलि देने हेतू मनाया जा रहा है। उन्होंने महिलाओं द्वारा नवीनता लाने, खोज कार्यों, समाजिक प्रबंधकों, परिवार की देखभाल करने, सामाजिक व आर्थिक विकास में डाले गए योगदान की सराहना की। उन्होंने कहा कि महिलाएं अब पुरुषों के कार्यों जैसे कि पुलाड़, सुरक्षा व उद्यमियों में सफलतापूर्वक अपनी भूमिका निभा रही है। वहीं यह मानना भी बहुत जरुरी है कि महिलाएं परिवारिक जिम्मेवारियों जैसे परिवार व बच्चों की देखभाल के साथ-साथ हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त कर रही है। उन्होंने महिलाओं को सलाह दी है कि वह अपने लक्ष्यों को पूरा करे और दुनिया पर जीत प्राप्त करने से कभी न डरे। मगर इसके साथ ही वह अपने निर्मता के गुणों को बरकरार रखे।
कवि सम्मेलन में हंसराज महिला विद्यालय जालंधर प्रिंसीपल डा.अजय सरीन मुख्यातिथि के तौर पर शामिल हुए। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि महिलाएं जहां एक मां, घर की गृहणी, बेटी की अहम भूमिका निभा रही है, वहीं एक प्रबंधक के साथ-साथ कार्यों के क्षेत्रों में महिलाओं का अहम स्थान है। महिलाएं जहां मल्टी टास्किंग काम करने में माहिर है, वहीं सब्र व हमदर्दी की मिसाल भी है। उन्होंने कहा कि महिला को समाज में और उच्च दर्जा दिलाने के लिए सशक्तिकरण समय की मुख्य जरुरत है। नीति निर्माण में महिलाओं की राय को शामिल करना व मानना, शिक्षा, साक्षरता, सिखलाई व जागरुकता के साथ महिलाओं को समाज में और ऊंचा उठाया जा सकता है। उन्होंने स्थायी विकास के लक्ष्यों की प्राप्ती के लिए लड़कियों व महिलाओं को विज्ञानिक खोजों, नवीनतमकारी कार्यों के साथ-साथ आर्थिक व सामाजिक विज्ञान में पूरी समर्था से काम करने की जरुरत पर जोर दिया।
कवि सम्मेलन में समाज व साहित्य रतन अवार्डी आशा शर्मा, पंजाबी अकादमी अवार्ड से सम्मानित परमजीत कौर महक, डीएवी यूनिर्वसिटी की बायो टेक्नालॉजी विभाग की इंचार्ज डा.प्रवीन गुलेरिया, पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड फरीदकोट की प्रिंसीपल मनिंदर कौर और मोरिंडा से प्रसिद्ध पंजाबी लेखिका अमरजीत कौर ने अपनी कविताओं के जरिए महिला सशक्तिकरण का संदेश दिया।
साइंस सिटी के डायरेक्टर डा.राजेश ग्रोवर ने महिलाओं व छात्राओं का आभार व्यक्त करते हुए समाज के सभी वर्गों के पुरुषों के रवैये को बदलने की जरुरतों पर जोर दिया। ताकि महिलाओं के खुशहाल जीवन के लिए उन्हें समाज की बराबर हिस्सेदार बनाया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here