स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सिंगला द्वारा सिविल सर्जनों को ज़रूरत अनुसार मुलाजिमों की रैशनलाईजेशन करने के हुक्म

0
91
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सिंगला द्वारा सिविल सर्जनों को ज़रूरत अनुसार मुलाजिमों की रैशनलाईजेशन करने के हुक्म
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सिंगला द्वारा सिविल सर्जनों को ज़रूरत अनुसार मुलाजिमों की रैशनलाईजेशन करने के हुक्म

Chandigarh(Sourabh Mittal):

पंजाब के समूह सिविल सर्जनों को आज स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. विजय सिंगला ने हिदायत की कि जब तक नयी भर्ती नहीं हो जाती तब तक राज्य के लोगों को सुचारू स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करवाने को यकीनी बनाने हेतु जिलों में तैनात अमले की ज़रूरत अनुसार रैशनलाईजेशन कर ली जाये।
आज यहां डायरैक्टोरेट स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग पंजाब, सैक्टर-34 ए चंडीगढ़ के कमेटी रूम में पंजाब राज्य के समूह सिविल सर्जनों के साथ पहली मीटिंग की अध्यक्षता करते हुये स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री पंजाब डॉ. विजय सिंगला ने कहा कि पंजाब की स. भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार राज्य निवासियों को मानक स्वास्थ्य सहूलतें देने के लिए वचनबद्ध है और इस दिशा में तेज़ी से काम किया जा रहा है।
उन्होंने सिविल सर्जनों को हिदायत की कि वह यकीनी बनाएं कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी और कर्मचारी समय पर अपनी हाज़िरी यकीनी बनाएं जिससे किसी भी मरीज़ या उसके रिश्तेदार को किसी किस्म की दिक्कत का सामना न करना पड़े।
डॉ. सिंगला ने इस मौके पर समूह सिविल सर्जनों को हिदायत की कि वह जल्द से जल्द अस्पतालों में ज़रूरी दवाओं सम्बन्धी सूची मुख्यालय के पास भेजें जिससे लोगों को सरकारी डिस्पैंसरियों के द्वारा सभी दवाएँ मुहैया करवाई जा सकें।
उन्होंने राज्य के सरकारी अस्पतालों में संस्थागत प्रसूति को और बढ़ाने के लिए यत्न करने के हुक्म देते हुये कहा कि गर्भवती माताओं की ऐंटीनेटल चैक अप रजिस्ट्रेशन बढ़ाई जाये और हर एक उच्च जोखिम वाली माताओं का विशेष ध्यान रख कर उसकी सुरक्षित प्रसूति करवाने का प्रबंध किया जाये
डॉ. सिंगला ने रैफरल सिस्टम में सुधार करने के हुक्म देते हुये कहा कि यदि ज़रूरी हो तो ही मरीज़ को रैफर किया जाये और ऑक्सीजन प्लाटों की संभाल की तरफ भी विशेष ध्यान दिया जाये जिससे एमरजैंसी के दौरान मरीज़ों को कोई दिक्कत पेश न आए।
स्वास्थ्य मंत्री ने सरकारी स्वास्थ्य संस्थाओं की देखभाल और सफ़ाई की तरफ विशेष ध्यान देने पर ज़ोर देते हुये स्वास्थ्य संस्थाओं की कारज़गुजारी में और सुधार लाने के लिए हुक्म दिए।
उन्होंने सिविल सर्जनों को हिदायत की कि वह अपने अधीन आती स्वास्थ्य संस्थाओं का समय समय पर दौरा करें और दौरे के दौरान पाई गयी कमी को दूर करें।
इस मौके पर प्रमुख सचिव स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग पंजाब श्री अजोए शर्मा, आई.ए.एस, मिशन डायरैक्टर एन.एच.एम पंजाब श्री कुमार राहुल, मैनेजिंग डायरैक्टर पी.एच.एस.सी भुपिन्दर सिंह, संयुक्त सचिव अमनदीप कौर बराड़, डायरैक्टर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग पंजाब डॉ. गुरिन्दर बीर सिंह, डायरैक्टर स्वास्थ्य सेवाएं(प.भ) पंजाब, डॉ. ओम प्रकास गोजरा, डायरैक्टर एन.एच.एम डॉ. अरीत कौर, डायरैक्टर पी.एच.एस.सी डाः रमन शर्मा, संयुक्त डायरैक्टर होम्योपैथी डॉ. बलिहार सिंह और समूह डिप्टी डायरैक्टर साहिबान और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here