बंटवारे के वक्त चूक ना होती तो करतापुर साहब हिंदुस्तान में होता: राजनाथ सिंह

0
115
बंटवारे के वक्त चूक ना होती तो करतापुर साहब हिंदुस्तान में होता: राजनाथ सिंह
बंटवारे के वक्त चूक ना होती तो करतापुर साहब हिंदुस्तान में होता: राजनाथ सिंह

Jalandhar(S.K Verma):

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पंजाब में हिंदू और सिखों को तोड़ने के लिए कुछ ताकतें सक्रिय हैं, मगर एक बात समझ लीजिए हिंदू और सिख आपस में भाई-भाई हैं और दुनिया की कोई भी ताकत इस भाईचारे को तोड़ने में कामयाब नहीं हो सकती। उन्होंने आह्वान किया कि चाहे कितना भी बलिदान क्यों ना देना पड़े भाई भाई के इस रिश्ते को किसी भी सूरत में टूटने नहीं देना। राजनाथ सिंह शुक्रवार को दसूहा में भाजपा के उम्मीदवार रघुनाथ राणा, सुजानपुर विधानसभा हलके से भाजपा के उम्मीदवार दिनेश बब्बू और गुरदासपुर से भाजपा के उम्मीदवार परमिंदर गिल के पक्ष में आयोजित विशाल जनसभाओं को संबोधित कर रहे थे। बता दें कि भाजपा ने एक दिन पहले ही अपने 30 स्टार प्रचारकों की सूची जारी की थी, जिनमें राजनाथ सिंह भी शामिल थे।

राजनाथ सिंह के प्रचार के साथ ही पंजाब में भाजपा के स्टार प्रचारकों का चुनाव प्रचार शुरू होते ही चुनावी माहौल चरम पर पहुंच गया है। राजनाथ सिंह ने विभिन्न स्थानों पर जनसभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि पंजाब की धरती गुरुओं की पवित्र धरती है। कुछ ताकतें भाईचारे को तोड़ना चाहती हैं लेकिन हमें श्री गुरु नानक देव जी का संदेश याद रखने चाहिए। देश कभी सिखों का बलिदान नहीं भूल सकता। उनका हौंसला देख हमारा सीना चौड़ा हो जाता है। सबसे ज्यादा बलिदान सिख समाज ने दिया है।


राजनाथ सिंह ने कहा कि बंटवारे के दौरान थोड़ी सी चूक हो गई अगर उस समय समझ बूझ से काम लिया होता तो करतारपुर साहिब पाकिस्तान में नहीं बल्कि भारत का हिस्सा होता। उन्होंने कहा कि श्री गुरु नानक देव जी की जन्मस्थली श्री ननकाना साहिब अब पाकिस्तान में है और शरीर छोड़ने वाला स्थान श्री करतारपुर साहिब भी पाकिस्तान में है। श्री करतारपुर साहिब तो भारत की सीमा से कुछ ही दूरी पर है, ऐसे में अगर उस वक्त चूक ना की होती तो करतारपुर साहिब भारत का हिस्सा होता। राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जो कहती है वह करती है। भाजपा की कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं है। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने का नामुमकिन काम भी भाजपा ने करके दिखाया। अयोध्या में श्री राम मंदिर का निर्माण करवाया और इसके अलावा जो भी वादे किए उन्हें पूरे कर रहे हैं। केंद्र में जब भाजपा की सरकार आई तो नरेंद्र मोदी ने स्पष्ट कहा था कि भाजपा की सरकार गरीबों की सरकार है। उन्होंने अब तक चूल्हे पर काम करती महिलाओं के दर्द को समझते हुए फ्री एलपीजी गैस घरों तक पहुंचाई। कच्चे मकानों में रह रहे लोगों को पक्के घर बनवा कर दिए और इस बजट में 80 लाख और घर बनाने का प्रावधान किया है। इतना ही नहीं अभी भी देश में ऐसे करोड़ों घर है जहां पानी नहीं है। ऐसे में हर घर जल-हर घर नल में जल योजना के तहत लोगों के घरों में पानी पहुंचाने का काम किया जा रहा है।

राजनाथ सिंह ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर बरसते हुए कहा कि राहुल को इतिहास मालूम नहीं है। जब शक्सगाम घाटी पाक ने चीन के हवाले की, उस वक्त जवाहर लाल नेहरू पीएम थे। चीन-पाकिस्तान में इकोनॉमिक कॉरिडोर 2013 में बना, उस वक्त देश में कांग्रेस का शासन काल था। राजनाथ सिंह ने कहा कि कृषि कानून से कुछ किसान संगठन सहमत नहीं थे। इसलिए पीएम ने उन्हें वापस ले लिया। पीएम ने शासक नहीं सेवक की भूमिका निभाई है। अब भी बजट में 2.37 लाख करोड़ से एम. एस.पी. पर गेहूं धान खरीदने की व्यवस्था की गई है। राजनाथ सिंह ने कहा कि केंद्र में एनडीए की सरकार बनी, लेकिन पंजाब में कभी भाजपा को नेतृत्व का मौका नहीं मिला। उन्होंने इस बार पंजाब की जनता से सरकार बनाने की अपील करते हुए कहा कि नशा बेचने वालों की खाट खड़ी कर देंगे। उन्होंने कहा कि जो पंजाब विकास में नंबर एक था आज बहुत पिछड़ चुका है। पंजाब में भाजपा की सरकार आने पर पंजाब को फिर से नंबर एक राज्य बनाना भाजपा का मुख्य लक्ष्य होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here