डा भीमराव अम्बेदकर दलितों और गरीबो के मसीहा थे:अवतार हैनरी

0
183
डा भीमराव अम्बेदकर दलितों और गरीबो के मसीहा थे:अवतार हैनरी
डा भीमराव अम्बेदकर दलितों और गरीबो के मसीहा थे:अवतार हैनरी

Jalandhar(S.K Verma):हल्का उत्तरी विधानसभा के संगरा मोहल्ला निवासियों की और डा भीमराव अम्बेदकर जी का 131 वा जन्म उत्सव बड़े शर्द्धापूर्वक से मनाया गया। जिसमे मुख्य अतिथि उत्तरी क्षेत्र के विधायक व् आल इण्डिया कांग्रेस के सदस्य जूनियर अवतार हैनरी उपस्तिथ हुए । हैनरी ने बाबा साहेब की प्रितमा पर पुष्प अर्पित किए और इलाका निवासियों को जन्म दिवस की हार्दिक बधाई देते हुए कहा की डा भीमराव आंबेडकर दलितों और गरीबो के मसीहा थे उन्होंने कहा गरीबों के दर्द को वही समझ सकता है जिसने गरीबी देखी हो. जो खुद गरीबों के बीच में रहा हो वह ही गरीबों की समस्या को सही ढंग से समझ सकता है. एक इंसान किस तरह एक देश की तकदीर को संवारता है इसका उदाहरण है महापुरुष डा. भीम राव अंबेडकर जिनका बचपन बेहद गरीबी में बीता, उन्हें छोटी जाति से संबद्ध होने की वजह से समाज की उपेक्षा का सामना करना पड़ा लेकिन मजबूत इरादों के बल पर उन्होंने देश को एक ऐसा रास्ता दिखाया जिसकी वजह से उन्हें आज भी याद किया जाता है.मेयर जगदीश राज राजा ने कहा की बावा साहिब डॉ. भीम राव अंबेडकर समस्त भारतवासियों के शुभ¨चतक व नेता थे। उन्हें किसी विशेष जाति बंधन में बांध कर देखने से भारत की लोकतांत्रिक छवि में कमी आई है। उन्होंने कहा कि श्री गुर गोबिंद सिंह जी, श्री गुरु रविदास जी, संत कबीर जी जैसे महापुरुषों ने समाज को जोड़ने की जो शिक्षा दी थी, उसी शिक्षा से प्रेरित हो कर सभी को बराबर का दर्जा देने की प्रक्रिया बाबा साहिब ने संविधान में अपनाई। इस अफसर पर प्रधान अशोक सोंधी,राजेश भट्टी,राजिंदर सहोता,मनोज नन्हा,रिम्पी कल्याण,विकास संगर,ईश्वर दास संगर,ओम प्रकाश,अश्वनी मट्टू,बलदेव राज मट्टू,राजीव गोरा,रमेश गरेवाल,सीमा मट्टू,नीलम गोगी,बब्बू सिदाना,नाउ सहोता,सुबाष गिल,जिन्द्र गिल,अश्वनी गिल,गोपाल भट्टी,सतपाल गोरा,धीरज गिल आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here