योजनाबद्ध ढंग के साथ होगा पंजाब के गाँवों का विकास: कुलदीप सिंह धालीवाल

0
69
योजनाबद्ध ढंग के साथ होगा पंजाब के गाँवों का विकास: कुलदीप सिंह धालीवाल
योजनाबद्ध ढंग के साथ होगा पंजाब के गाँवों का विकास: कुलदीप सिंह धालीवाल

Jalandhar(S.K Verma):

पंजाब के ग्रामीण विकास ,पंचायत और प्रवासी मामलों के बारे में मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल ने आज कहा कि राज्य के गाँवों का विकास पूरे योजनाबद्ध ढंग के साथ करवाया जायेगा, जिसमें गाँवों के निवासियों और प्रवासी पंजाबियों का भी पूरा सहयोग लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि जल्द ही जालंधर की तरह अमृतसर, लुधियाना, पटियाला और बठिंडा में भी प्रवासी भारतियों के साथ सम्बन्धित मामलों के लिए विशेष अदालते स्थापित की जाएंगी।
स्थानीय सर्कट हाऊस में जालंधर, कपूरथला, होशियारपुर और शहीद भगत सिंह नगर के ग्रामीण विकास और पंचायतों विभाग के साथ सम्बन्धित सीनियर आधिकारियों के साथ बैठक दौरान कुलदीप सिंह धालीवाल ने सभी आधिकारियों को निर्देश दिए कि पंजाब के गाँवों में अपेक्षित तबदीली और सुधारों के लिए यत्न शुरू किए जाए,जिससे इन गाँवों की पूरी कायाकलप की जा सके। उन्होंने कहा कि विकास कामों में किसी किस्म का समझौता सहनयोग्य नहीं होगा और भ्रष्टाचार ख़िलाफ़ पूरी सख़्ती की जायेगी गाँवों के विकास कामों सम्बन्धित कैबिनेट मंत्री ने कहा कि विकास प्रोजेक्टों की रूप रेखा को अंतिम रूप देने से पहले भविष्य की ज़रूरतों अनुसार सम्बन्धित तकनीकी शाखाओं के साथ भी पूरा तालमेल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पंजाब गाँवों में बसता है और राज्य सरकार राज्य के 12,500 से अधिक गाँवों की कायाकल्प करने के लिए वचनबद्ध है।उन्होंने आधिकारियों को आदेश करते कहा कि गाँवों के बीच विकास कार्य तकनीकी शाखाओं से सही योजनाबंदी उपरांत ही करवाए जाएँ, जिनकी अवधि कम से -कम 25 साल होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गाँवों के विकास कामों के मानक के साथ किसी किस्म का समझौता सहन नहीं किया जायेगा।ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री पंजाब भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार का मुख्य उद्देश्य राज्य को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना है। उन्होंने आधिकारियों को चेतावनी देते कहा कि राज्य सरकार की तरफ से भ्रष्टाचार ख़िलाफ़ ज़ीरो टोलरैंस की नीति अपनाई जायेगी और गाँवों में करवाए जाने वाले विकास कामों में यदि कोई अधिकारी /कर्मचारी भ्रष्टाचार करता पाया गया तो उसके ख़िलाफ़ बनती कानूनी कार्यवाही की जायेगी।गाँवों के विकास में ग्राम सभाओं की महत्ता के बारे बात करते कैबिनेट मंत्री ने कहा कि ग्राम सभाओ ग्रामीण विकास के क्षेत्र में अहम भूमिका निभाते हैं, जिनकी मज़बूती के लिए ठोस प्रयतन किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि साल में चार बार ग्राम सभाओं का सेशन करवाया जायेगा और गाँवों के लोग विकास के लिए आई अनुदान को ख़र्च करने सम्बन्धित फ़ैसला ले सकेंगे। उन्होंने 26 जून को नशा विरोधी दिवस मौके राज्य भर के गाँवों में ग्राम सभाओं का सेशन बुलाने और इस दौरान अधिक से अधिक लोगों की बाई भागीदार करवाने और उनको नशों ख़िलाफ़ जागरूक करने का न्योता दिया।गाँवों के विकास के लिए प्रवासी पंजाबियों के सहयोग के बारे बात करते कुलदीप सिंह धालीवाल ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से प्रवासी पंजाबियों का डाटा एकत्रित किया जायेगा, जिसके लिए ग्रामीण विकास और पंचायतों विभाग के आधिकारियों की ड्यूटी लगाई जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रवासी पंजाबियों की जानकारी एकत्रित करने उपरांत उनकी तरफ से अपने गाँवों में बनता सहयोग देने के लिए उनके साथ संबंध किया जाएगा ,जिससे ग्रामीण विकास और सामने आ सके। उन्होंने कहा कि प्रवासी पंजाबियों को गाँवों के विकास कामों में योगदान डालने के लिए सही उपलब्ध करवाया जायेगा और उन की तरफ से भेजा पैसा उचित ढंग के साथ विकास कामों पर ख़र्च किया जाना यकीनी बनाया जायेगा।
इस मौके दूसरे के इलावा नकोदर से विधायक इन्द्रजीत कौर मान, जालंधर केंद्रीय से विधायक रमन ‌ अरोड़ा, जालंधर पश्चिमी से विधायक शीतल अंगुराल, करतारपुर से विधायक बलकार सिंह, शाम चौरासी से विधायक डा. रवजोत, टांडा से विधायक जसबीर सिंह राजा, दसूहा से विधायक कर्मवीर सिंह, आम आदमी पार्टी के नेता सुरिन्दर सिंह सोढी, राजविन्दर कौर, मंगल सिंह, दिनेश ढल, बलवंत भाटिया आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here