डिप्टी कमिश्नर ने आधिकारियों को आदर्श चुनाव संहिता सख़्ती से लागू करने के दिए निर्देश

0
126
डिप्टी कमिश्नर ने आधिकारियों को आदर्श चुनाव संहिता सख़्ती से लागू करने के दिए निर्देश
डिप्टी कमिश्नर ने आधिकारियों को आदर्श चुनाव संहिता सख़्ती से लागू करने के दिए निर्देश

Jalandhar(S.K Verma):

भारत चुनाव आयोग की तरफ से विधान सभा चुनाव -2022 की समय सारणी का ऐलान करने के तुरंत बाद डिप्टी कमिशनर -कम -ज़िला चुनाव अधिकारी घनश्याम थोरी ने आज सभी आधिकारियों को आदेश दिए कि आदर्श चुनाव संहिता को पूरी सख़्ती के साथ लागू किया जाये और इसमें किसी तरह की ढील और उल्लंघन सहन नहीं किया जायेगा। डिप्टी कमिशनर ने सरकारी विभागों के आधिकारियों को अपने दफ़्तरों, विभाग की वेबसाइटें और वेब पेजें आदि से राजनीतिक नेताओं की तस्वीरों और पोस्टर आदि तुरंत उतारने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सरकारी दफ़्तरों, बिलडिंग और कम्पलैकसें में से भी राजनीतिक पोस्टर, होर्डिंग, बैनर आदि तुरंत उतारे जाएँ। इसी तरह उन्होंने नगर निगम जालंधर, अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर (शहरी विकास) के दफ़्तर और दूसरे सम्बन्धित संस्थानो को भी चुनाव संहिता की पालना को यकीनी बनाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि सरकारी इमारतों से राजनीतिक इश्तिहार 48 घंटों में और निजी प्रापरटियोँ से यह इश्तिहार 72 घंटों में उतारे जाएँ। 9 विधान सभा हलके, 16,50,867 वोटर और 1974 पोलिंग स्टेशन : इससे पहले डिप्टी कमिशनर घनश्याम थोरी ने पंजाब के मुख्य चुनाव अधिकारी ऐस. करुणा राजू की तरफ से वर्चुअल बैठक दौरान बताया कि जालंधर ज़िले में 9 विधान सभा हलकों जालंधर केंद्रीय, जालंधर उत्तरी, जालंधर छावनी, जालंधर पश्चिमी, करतारपुर, नकोदर, आदमपुर, फ़िल्लौर और शाहकोट में 16,50,867 वोटर और 1974 पोलिंग स्टेशन हैं। उन्होंने बताया कि ज़िला प्रशासन की तरफ से निष्पक्ष और शांतमयी चुनाव के लिए ज़रुरी इंतज़ाम किये जा चुके हैं 78.84 प्रतिशत लाईसेंसी हथियार पहले ही हो चुके जमा: मुख्य चुनाव अधिकारी को जानकारी दी गई कि ज़िला जालंधर में लगभग 78.84 प्रतिशत लाईसेंसी हथियार पहले ही जमा हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि ज़िले के सभी पोलिंग स्टेशनें पर 1163 माईक्रो अबज़रवर तैनात किये जाएंगे।


आर.ओ. स्तर पर खर्चा टीमोँ, सुपरवाईज़रोँ और बी.ऐल.ओज को तीसरे राउंड का प्रशिक्षण:उनहोंने यह भी बताया कि चुनाव खर्च और कानून और व्यवस्था की निगरानी के लिए विधान सभा हलका स्तर से ज़िला स्तर तक अलग -अलग टीमों की गठन किया गया है जिससे चुनाव सम्बन्धित भारत चुनाव कमीशन के आदेशों की पालना को यकीनी बनाया जा सके। उन्होंने आगे बताया कि आर.ओ. स्तर पर अलग -अलग खर्चा टीमोँ, सुपरवाईज़रोँ और बी.ऐल.ओज आदि को तीसरे राउंड का प्रशिक्षण दिय़ा जा चुका है।पोलिंग स्टाफ के लिए टीकाकरण कैंप: डिप्टी कमिशनर ने यह भी बताया कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सभी पोलिंग बूथें पर ज़रुरी प्रबंधों के साथ पोलिंग ड्यूटी स्टाफ को दोनों ख़ुराकों के अंतर्गत टीकाकरण करने के लिए विशेश टीकाकरण कैंप लगाए जा रहे हैं और इसके बाद योग्य व्यक्तियों को बूस्टर डोज़ भी दी जायेगी। उन्होंने कहा कि चुनाव दौरान सिवल सर्जन को ज़िला कोविड नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि नाजायज शराब के कारोबार और तस्करी को रोकने के लिए पुलिस और आबकारी विभाग को अपने अभियान में तेज़ी लाने के लिए भी कहा गया है। इस मौके अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर (विकास) जसप्रीत सिंह, अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर (जनरल) अमरजीत बैंस, सभी उप मंडल मैजिस्ट्रेट और पुलिस के अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here