डिप्टी कमिश्नर ने स्ट्रांग रूम और गिनती केन्द्रों के लिए प्रबंधों को दिया अंतिम रूप

0
65
डिप्टी कमिश्नर ने स्ट्रांग रूम और गिनती केन्द्रों के लिए प्रबंधों को दिया अंतिम रूप
डिप्टी कमिश्नर ने स्ट्रांग रूम और गिनती केन्द्रों के लिए प्रबंधों को दिया अंतिम रूप

Jalandhar(S.K Verma):

डिप्टी कमिशनर जालंधर घनश्याम थोरी की तरफ से आज जिले में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों (ई.वी.एमज़) और वोटर वैरीफीएबल पेपर आडिट ट्रेल (वीवीपैट) मशीनों के लिए स्ट्रांग रूमों और संख्या केन्द्रों के प्रबंधों को अंतिम रूप दिया गया।
डिप्टी कमिशनर, जिनके साथ एस.एस.पी. सतीन्द्र सिंह, अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर (विकास) जसप्रीत सिंह, डिप्टी कमिशनर आफ पुलिस जसकिरन सिंह, अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर (ज) अमरजीत बैंस मौजूद थे, ने बताया कि 20 फरवरी को जिले में मतदान समाप्त होने के बाद इन स्ट्रांग रूमों में अलग -अलग विधान सभा हलकों से ई.वी.एमज़ और वीवीपैट मशीनें लाई जाएगी। यह मशीनें इन स्ट्रांग रूमों में गिनती वाले दिन 10 मार्च तक रखी जाएगी। उन्होंने बताया कि सभी 9 विधान सभा हलकों के लिए स्ट्रांग रूम सरकारी आर्टस एंड स्पोर्टस कालेज, पंजाब लैड्ड रिकार्ड सोसायटी और स्टेट पटवार स्कूल में बनाए गए है। डिप्टी कमिशनर ने बताया कि ज़िला प्रशासन की तरफ से इन केन्द्रों पर पंजाब पुलिस, पंजाब आर्म्ड पुलिस और अर्ध सैनिक बलों सहित थ्री टायर सुरक्षा प्रबंधों किये गए है।उन्होंने आधिकारियों को इन स्ट्रांग रूमों की चौबीस घंटे ई -निगरानी के लिए अपेक्षित संख्या में सी.सी.टी.वी. कैमरे लगाने के साथ-साथ रिकार्डिंग बैकअप रखने और इन कैमरों को निर्विघ्न बिजली स्पलाई को यकीनी बनाने के लिए भी कहा। घनश्याम थोरी ने स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदरशी मतदान करवाने के लिए ज़िला प्रसासन की दृढ़ वचनबद्धता को दोहराया और कहा कि इस सम्बन्धित पहले ही पुख़्ता प्रबंध किये जा चुके हैं। इस दौरान उन्होंने स्ट्रांग रूमों के साथ बनाऐ गए गिनती केन्द्रों का भी दौरा किया और 10 मार्च, 2022 को होने वाली गिनती को उचित और पारदरशी ढंग के साथ पूरा करने के लिए सम्बन्धित रिटर्निंग अधिकारियों को ज़रुरी निर्देश दिए।इस मौके दूसरो के इलावा सहायक कमिशनर (यू.टी.) ओजस्वी अलंकार, ए.डी.सी.पी. सुहैल मीर, पी.सी.ऐस. अधिकारी (यू.टी.) गुरलीन कौर, चुनाव तहसीलदार सुखदेव सिंह, कानून्गो राकेश कुमार, सभी रिटर्निंग अधिकारी और सम्बन्धित ए.सी.पीज़ मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here