प्रशासन कारोबार करने को आसान और बढिया बनाने के लिए वचनबद्ध: डिप्टी कमिश्नर

0
124
प्रशासन कारोबार करने को आसान और बढिया बनाने के लिए वचनबद्ध: डिप्टी कमिश्नर
प्रशासन कारोबार करने को आसान और बढिया बनाने के लिए वचनबद्ध: डिप्टी कमिश्नर

Jalandhar(S.K Verma): जालंधर में कारोबार करने को आसान और बढिया बनाने की अपनी दृढ़ वचनबद्धता को दोहराते डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने आज एक बार निवेशकों को जालंधर को अपना कारोबारी स्थान बनाने का न्योता दिया क्योंकि उनको नए उद्योग खोलने सम्बन्धित दस प्रमुख विभागों से जल्द रेगुलेटरी मंजूरी देने के लिए विस्थारित प्रणाली पहले ही बनाई जा चुकी है। इनवैस्ट पंजाब के सी.ई.ओ. के.के. यादव की अध्यक्षता में हुई वर्चुअल समीक्षा बैठक में हिस्सा लेते डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि ज़िला प्रशासन की तरफ से जालंधर में निवेशकों को बढिया सुविधाएं प्रदान करने के लिए सख्त यत्न किये जा रहे है। उन्होंने आगे बताया कि नए उद्योग खोलने सम्बन्धित दस प्रमुख विभागों से रेगुलेटरी मंजूरी को जल्द प्राप्त करने के लिए डिस्ट्रिक्ट ब्यूरो आफ इंडस्ट्री और इनवेस्टमैंट परमोशन (डी.बी.आई.आई.पी.) को स्थापित किया गया है, जो कि निवेशकों के लिए वरदान साबित हुआ है। डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि सभी प्रमुख विभागों के नोडल अधिकारियों की तरफ से रेगुलेटरी मंजूरी देने के लिए डी.बी.आई.आई.पी में हर मंगलवार को बैठक की जाती है। उन्होंने बताया कि अब तक जालंधर डी.बी.आई.आई.पी. की तरफ से 25 सैशन करवाए जा चुके है। घनश्याम थोरी ने बताया कि कोई भी निवेशक नगर निगम, डिप्टी डायरैक्टर फैक्टरीज, पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड, पंजाब पावर निगम लिमटिड, वन, लोग निर्माण विभाग, टैक्सेशन, डी.टी.पी., उद्योग और ख़रीद कर विभाग और पंजाब लघु उद्योग और निर्यात निगम सहित दस विभागों के सम्बन्धित अधिकारियों को मिलना चाहता है तो वह सभी दस नोडल अधिकारियों के साथ कमरा नंबर 314, तीसरी मंजिल, ज़िला प्रशासकीय कंपलैक्स, जालंधर में रखी गई ब्यूरो की बैठक में शामिल हो सकते है। उन्होंने कारोबारी भाईचारे को भी जालंधर में अधिक से अधिक निवेश करने का न्योता दिया। उन्होंने जानकारी दी कि निवेशक अपने निवेश उद्यमों के सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की सहायता के लिए सीनियर सलाहकार के साथ मोबाइल नंबर 90323 -04050 पर संपर्क कर सकते है। इस सम्बन्धित और ज्यादा जानकारी देते सीनियर सलाहकार जालंधर डी.बी.आई.आई.पी. स्टीफन एस.जे.एस ने बताया कि पिछले वित्तीय साल दौरान कारोबार करने में सुविधा को बढिया बनाने के मामलो में जालंधर ऊपरी जिलों में से एक था। जालंधर की तरफ से बिज़नस फस्ट पोर्टल के द्वारा प्राप्त हुए आवेदनों की कुल संख्या, समय सीमा के अंदर मंज़ूर आवेदन रेगुलेटरी क्लीयरेंस के लिए लिया औसत समय और उपभोक्ता रेटिंग स्कोर सहित कई पहलुओं में बढ़िया प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि इस साल जालंधर को उद्योग और निवेश को उत्साहित करने में अग्रणी ज़िला बनाने के लिए और और ज्यादा ठोस प्रयास किए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here