होशियारपुर की भंगी चोअ को पटियाला की बड़ी और छोटी नदी की तर्ज पर किया जाएगा विकसित: ब्रम शंकर जिम्पा

0
49
होशियारपुर की भंगी चोअ को पटियाला की बड़ी और छोटी नदी की तर्ज पर किया जाएगा विकसित: ब्रम शंकर जिम्पा
होशियारपुर की भंगी चोअ को पटियाला की बड़ी और छोटी नदी की तर्ज पर किया जाएगा विकसित: ब्रम शंकर जिम्पा

Chandigarh(Harish Jindal):

पंजाब के जल संसाधन मंत्री श्री ब्रम शंकर जिम्पा ने विभाग के अधिकारियों को पटियाला की बड़ी और छोटी नदी की तजऱ् पर होशियारपुर शहर की भंगी चोअ के नवीनीकरण के लिए प्रोजैक्ट तैयार करने के निर्देश देते हुए राज्य में चल रहे सभी प्रोजैक्टों को समय पर मुकम्मल करना सुनिश्चित बनाने के लिए कहा। 
यहाँ सैक्टर-26 स्थित महात्मा गांधी स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक ऐडमिनिस्ट्रेशन में जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की अध्यक्षता करते हुए कैबिनेट मंत्री ने कहा कि आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक श्री अरविन्द केजरीवाल और मुख्यमंत्री स. भगवंत मान द्वारा पंजाब निवासियों को साफ़-सुथरा, ईमानदार और पारदर्शी शासन देने के किए वायदे के मुताबिक पंजाब सरकार की नीति के अनुसार पारदर्शिता बरकरार रखी जाए। उन्होंने हिदायत की कि बाँधों के निर्माण के दौरान हादसे के दौरान मारे गए मज़दूरों के पारिवारिक सदस्य को यदि अभी तक नौकरी नहीं दी गई तो उनको प्राथमिकता के आधार पर सरकारी नौकरी दी जाए और ऐसे परिवारों के पुनर्वास को सुनिश्चित बनाया जाए।
मानसून की शुरूआत को ध्यान में रखते हुए श्री ब्रम शंकर जिम्पा ने अधिकारियों को हिदायत की कि वह बरसात के मौसम से पहले बाढ़ से सुरक्षा के कार्यों को मुकम्मल कर लें, जिस सम्बन्धी वह जल्द ही समीक्षा बैठक करेंगे। उन्होंने विभाग को फील्ड में चल रहे कार्यों की प्रगति की जानकारी स्थानीय विधायकों को देने के लिए भी कहा।
जल संसाधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री सरवजीत सिंह ने मंत्री का स्वागत करते हुए उनको विभाग की मुख्य गतिविधियों, पहलकदमियों और आंकड़ों के बारे में अवगत करवाया। उन्होंने शाहपुर कंडी बैरेज के निर्माण, राजस्थान फीडर, सरहिन्द फीडर, कंडी कैनाल और यू.बी.डी.सी. की लाहौर ब्रांच की रीलाईनिंग के बारे में विशेष रूप से जानकारी दी और इसके साथ ही पंजाब के नहरी पानी और भूजल की स्थिति संबंधी अवगत करवाया।कैबिनेट मंत्री ने ज़ोर देकर कहा कि जिस क्षेत्र में पानी आसानी से उपलब्ध है, वहाँ उद्योगों को प्रोत्साहित करने के लिए नीति तैयार की जाए। श्री सरवजीत सिंह ने मंत्री को बताया कि पंजाब सरकार ने उपलब्ध पानी के सही उपयोग को सुनिश्चित बनाने के लिए पहले ही पंजाब जल नियमन और विकास प्राधिकरण (पी.डब्ल्यू.आर.डी.ए.) का गठन किया हुआ है।
विभिन्न लक्ष्यों की प्राप्ति और चल रहे प्रोजैक्टों को मुकम्मल करने के लिए विभाग के इंजीनियरों द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए श्री जिम्पा ने इस बात पर ज़ोर दिया कि सभी प्रोजैक्टों को निर्धारित समय-सीमा के अंदर मुकम्मल किया जाना चाहिए, जिससे इन प्रोजैक्टों का लाभ आम लोगों तक पहुँचाया जा सके। उन्होंने आगे कहा कि कार्य की गुणवत्ता के साथ किसी भी कीमत पर समझौता नहीं किया जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here