भ्रष्टाचार और लापरवाही के कारण भारत की सड़क दुर्घटना राजधानी में बदल रहा अमृतसर: जगमोहन राजू

0
82
भ्रष्टाचार और लापरवाही के कारण भारत की सड़क दुर्घटना राजधानी में बदल रहा अमृतसर: जगमोहन राजू
भ्रष्टाचार और लापरवाही के कारण भारत की सड़क दुर्घटना राजधानी में बदल रहा अमृतसर: जगमोहन राजू

Amritsar(Rajeev Sharma):

भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व आईएएस डॉ. जगमोहन सिंह राजू ने अमृतसर शहर में बिगड़ी ट्रैफिक व्यवस्था तथा तेज रफ़्तार अनियंत्रित गाड़ियों के कारण सड़क पर होने वाली मौतों को लेकर मुख्यमंत्री भगवंत मान को पत्र लिख कर उनकी कार्यशैली तथा जिला प्रशासन पर सवाल खड़े किए हैं।

                जगमोहन राजू ने कहा कि पंजाब में आप सरकार बनने के दो महीनों में ही गुरुनगरी अमृतसर भारत की ‘सड़क दुर्घटनाओं की राजधानी’ बन गया है। अमृतसर में दो महीने में सड़क पार कर रही एक प्रमुख डॉक्टर की पत्नी जिसे तेज रफ्तार वाहन ने उसे टक्कर मारी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पिछले सप्ताह के दौरान ही गुरुनगरी में छह मौतों की सूचना मिली है। अमृतसर में कल फिर एक सड़क दुर्घटना में एक और मासूम की जान चली गई। गुरुनगरी के यातायात प्रबंधन के लिए मुश्किल से 200 पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है, हालांकि पवित्र शहर में लगभग 6.32 लाख वाहन पंजीकृत हैं। इसके अलावा, अमृतसर एक वैश्विक पर्यटन स्थल होने के नाते, हजारों वाहन प्रतिदिन पवित्र शहर में प्रवेश करते हैं। अफसोस की बात है कि ट्रैफिक विंग में तैनात पुलिस कर्मी राजनीतिक दबाव और भ्रष्टाचार के कारण कानून के दायरे में अपना कार्य नहीं करते। शहर में सड़क हादसों की भयावहता ने सड़क यात्रा को न केवल असुरक्षित बल्कि बेहद खतरनाक बना दिया है। यह शहर की अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठा को बहुत नुकसान पहुंचा रहा है। इससे पर्यटन उद्योग पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।

जगमोहन राजू ने कहा कि हमें इसे हर दृष्टि से विश्वस्तरीय शहर बनाना चाहिए। पंजाब और खासकर अमृतसर के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विशेष सॉफ्ट कॉर्नर है। वह अमृतसर की भव्यता में सुधार के किसी भी प्रस्ताव का तहे दिल से समर्थन करेंगे। राजू ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा भारत सरकार को ‘शहरी परिवहन योजना के लिए योजना’ के तहत अभी तक कोई प्रस्ताव नहीं भेजा गया है, जो भारत के सभी शहरों में व्यापक यातायात और परिवहन योजना, एकीकृत भूमि उपयोग और परिवहन योजना, पूर्ण गतिशीलता योजना और विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने, स्वच्छ विकास तंत्र आदि के लिए केंद्रीय वित्तीय सहायता प्रदान करता है। भारत सरकार इस योजना के तहत 80% धनराशि प्रदान करती है।

जगमोहन राजू ने कहा कि पवित्र गुरुनगरी में हाल ही में बिगड़ती सड़कों की स्थिति के प्रति राज्य सरकार का रवैया और प्रतिक्रिया भयावह और दुर्भाग्यपूर्ण है। राजू ने मुख्यमंत्री भगवंत मान से मांग की कि अमृतसर की स्थिति को सुधारने के लिए तत्काल गैर-पक्षपाती कार्रवाई करें ताकि सड़क हादसों में होने वाले जानी नुकसान पर अंकुश लगाया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here