दुर्गा अष्टमी के दिन ही नहीं हर समय कन्याओं की पूजा और सम्मान होना चाहिए – बेलन ब्रिगेड

लुधियाना,( अमन जैन )-समाज में पैदा हो रही बुराइयों को समाज में रहने वाले समझदार ज्ञानी लोग ही दूर कर सकते हैं। संसार में महिला व पुरुष दोनों द्वारा ही दुनियादारी चलती है और दोनों का ही समाज व परिवार को चरित्रवान बनाना उनका कर्तव्य है। बेलन ब्रिगेड की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनीता शर्मा ने कहा कि चाहे समाज पुरुष व महिलाओं के सांझे कर्म व विचारो से चलता है, लेकिन इस पुरुष प्रधान समाज में महिलाओं को हमेशा ही निम्न श्रेणी का समझा जाता रहा है और जिस समाज में कन्याओं की पूजा होती है। उसे शक्ति का स्वरुप माना जाता है। यहां पर दुर्गा अष्टमी को घर के प्रमुख पुरुष कन्याओं के पैर छूते हैं। उन्हें देवी के समान समझते हैं तो फिर यही मर्द लोग इन पर जुर्म क्यों करते है यदि ऐसे समाज में महिलाओं पर हर वक्त हर जगह अत्याचार हो तो इसके लिए जिम्मेदार कौन है। अनीता शर्मा ने कहा कि आज के समय में लोग जिन कन्याओं को देवी रूप समझकर चरण स्पर्श करते हैं। उसी समाज में इन कन्याओं को लोग बुरी नजर से देखते है। महिलाओं को किसी भी विभाग में पूरा न्याय नहीं मिलता और नारी आज सबसे ज्यादा जलील हो रही है । उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है सभी महिलाओं को एक जुट होकर अपने अधिकारों के लिए लड़ना होगा ताकि कोई भी हब्शी इन्शान महिलाओं को बुरी नजर से न देख सके और यही हमारी इस अष्टमी को देवी माँ की पूजा है इसलिए समाज में केवल दुर्गा अष्टमी वाले दिन की नहीं हर समय कन्याओं की पूजा होनी चाहिए ताकि जनता में जागरूकता आए और सारे देश की महिलाऐं पुरुष प्रधान समाज में पुरुषों के साथ कंधे से कन्धा मिला कर काम करे और उन्हें जिंदगी में कभी भी अपने आप को दुसरे दर्जे का नागरिक होने का एहसास न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *